हिंदी योगी

sukanya samriddhi yojana 2020

अब बेटियों का होगा विकास, सुकन्या समृद्धि योजना के साथ /जानिए SSY में क्या है नया? क्यों हर माता पिता को SSY में खाता खुलवाना चाहिए- Sukanya Samridhi Yojana-2020

सुकन्या समृद्धि योजना भारत सरकार द्वारा “बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ” अभियान के तहत शुरू किया गया बेटियों के लिए एक स्कीम है.  इस योजना का मुख्य उद्देश्य है बेटी की पढ़ाई और शादी के खर्च में मदद करना। 

 

इस योजना के अंतर्गत बच्ची जिसकी उम्र 0-10 वर्ष है के नाम से SSY में एक खाता खुलता है. इसकी मच्योरिटी पीरियड 21 साल की होती है लेकिन इसमें पैसा सिर्फ 15 साल तक ही जमा करना होता है. 21 साल के बाद यह अकाउंट बंद करवा सकते है और सारा पैसा ब्याज़ सहित निकाल सकते है. 

Advertisement

 

SSY में खाता खोलने के लिए मात्र 250 की आवश्यकता होती है जो की 2020 से पहले यह राशि 1000 रूपये थी. इस योजना की सबसे बड़ी ख़ास बात यह है की इसमें उच्चतम ब्याज़ दर के साथ टैक्स बेनिफिट का भी प्रावधान है.  SSY की ब्याज़ दर की तुलना अगर हम बाकी सभी प्रकार के डेट सेविंग स्कीम से करें तो यह सबसे अधिक है. PPF से भी अधिक ब्याज़ SSY में मिलता है.

कौन-कौन SSY योजना का लाभ ले सकता है?

सुकन्या समृद्धि योजना ख़ास तौर पर बेटियों के लिए बनाया गया है. यह एक प्रकार की Girl Child (बच्ची) योजना है. इस योजना का लाभ केवल वही माता या पिता ले सकते है जो भारत के निवासी है और जिनकी कोई बेटी है और बेटी की उम्र 10 वर्ष से नीचे है. 

 

अगर बेटी की उम्र 10 वर्ष से ज्यादा है तो इस योजना का लाभ नहीं मिल सकता। 

 

अगर हम बात करें कि कितनी बेटिओं के नाम से SSY खाता खुलवा सकते है तो आप दो बेटियों के नाम से दो खाता खुलवा सकते है ,मतलब एक बेटी के लिए एक खाता खुलवा सकते है  

 

अगर बेटी जुरबा पैदा होती है तो इस केस में 3 बेटियों के नाम से 3 खाता खुलवा सकते है.

Sukanya Samriddhi Yojana खाता कहाँ से खुलवा सकते है?

SSY खाता किसी भी अधिकृत (Authorized) बैंक जैसे HDFC Bank , ICICI Bank, SBI Bank, Axis बैंक आदि या पोस्ट ऑफिस में खुलवा सकते है. यह खाता आप न्यूनतम राशि (Minimum Amount) 250 रूपये से खुलवा सकते है. इसके अलावा कुछ डॉक्युमेंट की भी आवश्यकता होती है जिसकी बात हम डिटेल में नीचे के पैराग्राफ में करेंगे।

SSY खाता में कितना पैसा हर साल जमा करना होता है?

SSY खाते में कम से कम 250 प्रति वर्ष जमा करना अनिवार्य है. और अधिकतम 1,50,000 (1.5 लाख) रूपये SSY खाते में जमा कर सकते है. अगर आप किसी साल 1.5 लाख रूपये से ऊपर जमा करते है तो अतिरिक्त राशि पर कोई ब्याज़ नहीं मिलेगा।

SSY खाते में ब्याज़ कैसे और कितना मिलता है?

सुकन्या समृद्धि योजना में मिलने वाले ब्याज़ की घोषणा भारत सरकार द्वारा हर तिमाही में की जाती है. वर्तमान में 2020 की बात करे तो यह ब्याज़ दर 7.6% है. 

 

सुकन्या समृद्धि योजना में ब्याज़ की गणना सालाना बेसिस पर होता है और सलाना बेसिस पर ही आपके SSY खाते में ब्याज़ क्रेडिट होता है. इस योजना में आपको चक्रवर्ती ब्याज़ मिलता है, मतलब इस योजना के अंतर्गत ब्याज़ के ऊपर भी ब्याज़ मिलता है. 

 

आइये इसे हम एक उदाहरण से समझते है.

 

मान लीजिये SSY खाते में आप हर साल 1,50,000 (1.5 लाख) रूपए  निवेश करते है. और ब्याज़ दर 7.6 फीसदी है तो, इस हिसाब से किस साल में कितना ब्याज़ मिलेगा, आइये इस गणना को निचे दिए गए टेबल से समझते है।

Sukanya Samriddhi Yojana Interest Calculation

sukanya samriddhi yojana calculator

तो ऊपर आप देख सकते है की हर साल जो मूल राशि आप SSY खाते में निवेश कर रहे है, उसके साथ साथ उस राशि पर मिलने वाले व्याज़ पर भी ब्याज़ हर साल  मिल रहा है. 

 

ऊपर दिए गए टेबल के अनुसार हम कह सकते है की अगर हम हर साल 1.5 लाख SSY में जमा करते है तो 15 साल में हमारे द्वारा निवेश कुल राशि 2250000 जबकि मच्योरिटी पर हम  6593071 राशि के हक़दार हो जाते है.

SSY खाता खोलने के लिए किन कागज़ात (Documents) की आवश्यकता होती है?

  • सुकन्या समृद्धि योजना अकाउंट ओपनिंग फॉर्म 
  • Beneficiary अर्थात जिस बच्ची के नाम से खाता खुलवाना है उसका जन्म प्रमाण पत्र 
  • Depositor अर्थात  माता या पिता का पहचान प्रमाण पत्र जैसे पैन कार्ड, राशन कार्ड, आधार कार्ड आदि 
  • Depositor अर्थात  माता या पिता का Address Proof जैसे राशन कार्ड, आधार कार्ड, बिजली बिल आदि

Sukanya Samriddhi Yojana में टैक्स बेनिफिट क्या है?

सुकन्या समृद्धि योजना में उच्चतम ब्याज़ दर के साथ टैक्स बेनिफिट का भी प्रावधान दिया गया है. SSY में सालाना 150,000 तक के निवेश पर इनकम टैक्स के सेक्शन 80C के तहत टैक्स छूट भी मिलता है. साथ ही इस योजना में  मिलने वाला ब्याज़ भी टैक्स फ्री होता है. 

 

अगर हम फिक्स्ड डिपाजिट कराते है और ब्याज़ की राशि 10,000 से अधिक है तो हमें इनकम टैक्स के रूप में उस राशि पर भी टैक्स देना होता है. लेकिन SSY में किसी प्रकार से ब्याज़ पर टैक्स नहीं देना होता है. 

 

जो राशि आपको SSY के मच्योरिटी पर मिलती है वह भी टैक्स फ्री होता है. उस राशि पर भी किसी प्रकार का कोई टैक्स नहीं देना होता है. इसका मतलब यह हुआ की SSY में सारा पैसा आपका है, कहीं कोई कटौती नहीं होती। जो की एक बहुत बड़ी बात है.

Sukanya Samriddhi Yojana में से पैसे कब और कितना निकाल सकते है?

सुकन्या समृद्धि योजना की मच्योरिटी पीरियड 21 साल की है. मतलब आप 21 साल से पहले इस अकाउंट से पैसा नहीं निकाल सकते और न ही इस अकाउंट को बंद करवा सकते है. 

 

मान लीजिये आपने 2020 में SSY खाता खुलवाया है तो 2041 में इसकी मच्योरिटी डेट होगी। लेकिन नीचे कुछ Criteria है जिसमे आप आधा पैसा या पूरा पैसा निकाल सकते है. 

 

1)  बेटी की हायर एजुकेशन के लिए :- अगर आप SSY में खाता खुलवाते है और बेटी की आयु 18 साल से अधिक हो जाती है तो उसके हायर एजुकेशन (10+2, कॉलेज की पढ़ाई आदि) के लिए SSY में कुल राशि का 50% तक आप पैसा निकाल सकते है. जिसके लिए आपको बैंक में या पोस्ट ऑफिस में जहाँ भी आपका SSY  खाता है वहां यह प्रमाणित करना होगा की आप यह पैसा बेटी की हायर एजुकेशन के लिए निकाल रहे है. 

 

2)  बेटी की शादी के लिए:- अगर बेटी की आयु 18 की हो जाती है और उसकी शादी करनी है तो इस केस में आप SSY खाता पूरी तरह बंद कर सकते है. और अकाउंट में जो भी पैसे है सारा पैसा निकाल सकते है. क्योकि देखा जाए तो इस योजना का उद्देश्य भी बेटी की पढाई और शादी के खर्च में मदद करना ही है। 

 

3) इसके अलावा भगवान न करें अगर लड़की की किसी कारणवश मृत्यु हो जाती है तो इस स्तिथि में भी, अकाउंट बंद करवा सकते है और पूरा पैसा निकाल सकते है.

सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत कितना ब्याज़ मिलता है? (Sukanya Samriddhi Yojana Interest Rate).

SSY में ब्याज़ दर फिक्स नहीं रहता। हर तिमाही में  भारत सरकार द्वारा SSY पर ब्याज़ दर की घोषणा की जाती है. वर्तमान में SSY पर ब्याज़ दर 7.6 %  है। इससे पहले SSY पर ब्याज़ दर 8.4% थी.

क्या होता है अगर किसी कारणवश किसी साल SSY खाते में न्यूनतम राशि (Minimum Amount) भी जमा नहीं होता।

अगर किसी वित्तीय वर्ष में किसी कारण से आप न्यूनतम राशि अर्थात 250 रूपये भी SSY खाते में जमा नहीं कर पाते है तो आपको 50 रूपये की पेनल्टी देनी पड़ती  है जिसके बाद खाता दोबारा से चालू हो जाता है.

क्या SSY खाते को ट्रांसफर करवा सकते है?

हां, सुकन्या समृद्धि योजना में आपको यह सुविधा प्राप्त है कि यदि आप भविष्य में अपने SSY खाते को कहीं दूसरी जगह ट्रांसफर कराना चाहते है तो आप ट्रांसफर करा सकते है. अगर आपका SSY खाता किसी पोस्ट ऑफिस में है तो आप इससे किसी बैंक में भी ट्रांसफर करवा सकते है

Leave a Comment